Wednesday, 19 September 2018

स्कंदमाता

                                                  

                                                                स्कंदमाता

                                     या देवी सर्वभू‍तेषु माँ स्कंदमाता रूपेण संस्थिता।
                                      नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।





नवरात्रि का पाँचवाँ दिन स्कंदमाता की पूजा की जाती है है। माता मोक्ष के द्वार खोलने वाली माँ है ।स्कंदमाता माँ अपने भक्तों की सभी इच्छाओं को पूरा करती हैं।शैलपुत्री ने ब्रह्मचारिणी बनकर तपस्या करने के बाद भगवान शिव से विवाह किया तब स्कन्द उनके पुत्र रूप मे उत्पन्न हुए |






भगवान स्कंद 'कुमार कार्तिकेय 'भगवान स्कंद नाम से भी जाने जाते हैं। ये देवासुर संग्राम में देवताओं के सेनापति थे। पुराणों में इन्हें कुमार और शक्ति कहकर इनका वर्णन किया गया है। इन्हीं भगवान स्कंद की माता होने के कारण माँ दुर्गाजी के इस स्वरूप को स्कंदमाता के नाम से जाना जाता है।


स्कंदमाता की चार भुजाएँ हैं, तीन आँखे || इनके दाहिनी तरफ की नीचे वाली भुजा, जो ऊपर की ओर उठी हुई है, उसमें कमल पुष्प है। बाईं तरफ की ऊपर वाली भुजा में वरमुद्रा में तथा नीचे वाली भुजा जो ऊपर की ओर उठी है उसमें भी कमल पुष्प हैं। इनका वर्ण पूर्णतः शुभ्र है। ये कमल के आसन पर विराजमान रहती हैं। इसी कारण इन्हें पद्मासना देवी भी कहा जाता है। सिंह इनका वाहन है।



जो साधक नवरात्रि-पूजन के पाँचवें दिन माँ स्कंदमाता की पूजा सच्चे मन से एकाग्र हो कर करता है ,उसकी समस्त इस लोक से व परलोक से समबन्दित चिंताओं का माँ नाश कर देती है।स्कंदमाता की पूजा करके माँ दुर्गा को केले का भोग लगाना चाहिए और यह प्रसाद ब्राह्मण को दे देना चाहिए। । माँ स्कंदमाता की उपासना से भक्त की समस्त इच्छाएँ पूर्ण हो जाती हैं।उसके लिए मोक्ष के द्वार खुल जाते है स्कंदमाता की पूजा उपासना से से बालरूप स्कंद भगवान की उपासना भी स्वमेव हो जाती है। सूर्यमंडल की देवी होने के कारण इन का उपासक आलोकिक तेज एवं कांति से संपन्न हो जाता है |


प्रथम नवदुर्गा : माता शैलपुत्री
द्वितीय नवदुर्गा : माता ब्रह्मचारिण
तृतीय नवदुर्गा : माता चंद्रघंटा
चतुर्थी नवदुर्गा : माता कूष्मांडा
पंचम नवदुर्गा : माता स्कंदमाता
षष्ठी नवदुर्गा : देवी कात्यायनी
सप्तम नवदुर्गा : माता कालरात्रि
अष्टम नवदुर्गा : माता महागौरी
नवम नवदुर्गा: माता सिद्धिदात्री



"आरती"


जय तेरी हो स्कंद माता।
पांचवां नाम तुम्हारा आता॥


सबके मन की जानन हारी।
जग जननी सबकी महतारी॥


तेरी जोत जलाता रहू मैं।
हरदम तुझे ध्याता रहू मै॥


कई नामों से तुझे पुकारा।
मुझे एक है तेरा सहारा॥


कही पहाडो पर है डेरा।
कई शहरों में तेरा बसेरा॥


हर मंदिर में तेरे नजारे।
गुण गाए तेरे भक्त प्यारे॥


भक्ति अपनी मुझे दिला दो।
शक्ति मेरी बिगड़ी बना दो॥


इंद्र आदि देवता मिल सारे।
करे पुकार तुम्हारे द्वारे॥


दुष्ट दैत्य जब चढ़ कर आए।
तू ही खंडा हाथ उठाए॥


दासों को सदा बचाने आयी।
भक्त की आस पुजाने आयी॥








       astro             jyotish                  coaching                   kid's story                  Best home remedies





Riteshnagi.blogspot.com 






IMPORTANT LINKS 

दोस्ती इतनी कमज़ोर नही होनी चाहिए कि,,,,    
Beautiful poem of munshi prem chand 

तेरे मासूम सवालो का में क्या जवाब दूRiteshnagi.blogspot.com
snake-flower
दोहे
A: MY BEST

RARE GEMS अनमोल हीरे
BEAUTIFUL AND POWERFUL QUOTES

रब नु प्या धोखा देना वे

हकीकत का फ़साना है /MY ORIGINALS/12/05/16

मेरी प्यारी चिड़िया /lost sparrows

REALITY / SEE WHAT IS TRUTH

SLIDE SHOW

History of medicine

ONLINE COACHING:

मै और मेरे पिता

words-to-improve-yourenglish

GOD YOU ARE GREAT

मुफ्त का चंदन घिस मेरे नंदन

riddles,,,,पहेलियाँ

एक काम भगवान् भी नही कर सकता


Riteshnagi.blogspot.com 



B:
excellent stories/RELIGION

दान दिया तेरा इक दान फल देगा तुझको मनमाना

कर्म का फल तो भुगतना ही पड़ता है

कमाल

पाप का फल किसके खाते में डालू / KARMA PHILOSOPHY

घमण्ड / BOAST / PROUD

घमण्ड (2 )/ BOAST-2/ PROUD-2



पति पत्नी के प्यार की एक अनोखी दिल को छूने वाली सच्ची कहानी



Riteshnagi.blogspot.com
C:

KIDS STORIES /MY ORIGINALS

टोपी वाला और बंदर की नई कहानी /KIDS STORIES / MY ORIGINALS


मेरा फर्ज /KIDS STORIES / MY ORIGINALS

हाथी दादा /KIDS STORIES / MY ORIGINALS

सात रतन

बुरा ना मानो सावन है


जल प्रदूषण / water pollution (POEM)

Riteshnagi.blogspot.com


D: ASTRO/jyotish

स्कंदमाता
कोनसे ग्रह शादी के रिश्तो और"लव-रिलेशनशिप के लिए जिम्मेदार होते है
राशिया व उन के मालिक ग्रह

ASTRO +VASTU BEST REMEDIES FOR ASTRO +VASTU PEACE AND PROSPERITY IN LIFE

बच्चों की पढ़ाई के लिए (for students)

गृहस्थ की सुख ,शांति व समृद्धि लिए काम की बाते

लक्ष्मी माता को प्रसन्न करने का अचूक मन्त्र/Aastha nagi

कुण्डली में विष योग

KALYAN ASTROLOGY

अब कोई ग्रह आपको तंग नही करेगा (jyotish) greh dosh nivarn

नवग्रह कवच ( jyotish) Armour for nine planets

 यह कुछ जरुरी बाते है जो हमे जरूर पता होनी चाहिए

   अपार धन सम्पति प्राप्त करवाने वाले सावन के शनिवार

  जन्म तिथि से अपने बारे में जाने

 रोग व उनके लिए रत्न व उपरत्न (1)

  पंच महापुरुष योग

कालसर्प दोष,बिल्कुल भी न डरे

ज्योतिष संबंधित चित्र

पितृदोष / pitr dosh


Riteshnagi.blogspot.com
E: Tech
 


HOW TO FIX BAD REQUEST ERROR 400

How to get back deleted Facebook massages,pics ,videos etc

How to combine two or more videos using windows movie maker.

HOW TO START SECOND CHANNEL ON YOUTUBE

HOW TO PUT WATER MARK ON PICTURE USING POWER POINT




Riteshnagi.blogspot.com

F: Home remedies


SUREST HOME REMEDIES TO DISSOLVE BLOOD CLOTS 1
surest remedy to nip in the bud most of the deadly disease
surest Home remedies to cure pneumonia
surest home remedy to quit smoking and drinking
पीलिया के लिए घरेलू इलाज / surest simplest swift home remedy to cure jaundice
कब हम होंगे समझदार
B P की समस्या को कहे बाये बाये,,SAY bye bye to BP


Riteshnagi.blogspot.com

S:  OUR SITES

     http://NEETUNAGI.BLOGSPOT.COM
     http://AASTHANAGI.BLOGSPOT.COM

     http://WWW.KALYANASTROLOGY.COM
     http://secrets99.blogspot.com
       learn english
      https://rnagi.blogspot.in/



 

Riteshnagi.blogspot.com


No comments:

Post a comment